दरभंगा मे बन रहा बिहार का दूसरा तारामंडल के कार्य के प्रगति के बारे मे जाने

अब वह दिन दूर नहीं जब लोग राजधानी पटना की तरह दरभंगा में तारामंडल के दौरे पर जाएंगे। यहां वे सैर करेंगे और आकाश में तारों के बीच गति और अन्य प्रकार की गतिविधियों से संबंधित आवश्यक जानकारी से अवगत होंगे।

दरभंगा मे बन रहा बिहार का दूसरा तारामंडल के कार्य के प्रगति के बारे मे जाने

अब वह दिन दूर नहीं जब लोग राजधानी पटना की तरह दरभंगा में तारामंडल के दौरे पर जाएंगे। यहां वे सैर करेंगे और आकाश में तारों के बीच गति और अन्य प्रकार की गतिविधियों से संबंधित आवश्यक जानकारी से अवगत होंगे। तारामंडल की दिव्यता को देखने के अलावा लोग यहां बन रहे रेस्टोरेंट में जरूरी चीजों की खरीदारी और लजीज व्यंजनों का लुत्फ भी उठा सकेंगे। इसका निर्माण कार्य अगले साल जून तक पूरा किया जाना है। सरकार इस मामले को लेकर गंभीर है। जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम ने हाल ही में इसका निरीक्षण कर पूरी व्यवस्था का जायजा लिया। इंजीनियरों से कहा गया कि निर्माण कार्य में देरी नहीं होनी चाहिए।

 एक ही परिसर में एक साथ विज्ञान संग्रहालय सहित कई भवनों का निर्माण

जानकारों का कहना है कि मिथिलांचल की नई पीढ़ी को पटना की जगह पॉलिटेक्निक कॉलेज दरभंगा के मैदान में तारामंडल मिलेगा। यहां लोगों को विज्ञान से जुड़ी चीजों की जानकारी मिल सकेगी। वहीं, इसका निर्माण पूरा होने से पर्यटन क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। दरभंगा समेत आसपास के गांवों और शहरों के लोगों को रोजगार मिलेगा। परिसर में बन रहे ऑडिटोरियम और तारामंडल, मार्केट कॉम्प्लेक्स और रेस्टोरेंट से भी रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

बाढ़ और कोरोना संक्रमण के खतरे से कामकाज प्रभावित

 बता दें कि तारामंडल सह विज्ञान संग्रहालय का निर्माण कार्य 73 करोड़ 73 लाख 66 हजार की लागत से किया जा रहा है. निर्माण कार्य जून 2021 तक पूरा किया जाना है। निर्माण की जिम्मेदारी भवन निर्माण विभाग की है। कार्यपालक अभियंता संजीत कुमार ने बताया कि कोरोना महामारी और बाढ़ के कारण इसके निर्माण में थोड़ी बाधा आई है। फिर भी सरकार द्वारा निर्धारित समय सीमा के भीतर तारामंडल बनकर तैयार हो जाएगा। काम हर दिन तेजी से हो रहा है।

 कनिष्ठ अभियंता तैनात हैं

बताया गया है कि निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर नजर रखने के लिए एक कनिष्ठ अभियंता को तैनात किया गया है। उनसे कहा गया है कि वे बार-बार निरीक्षण कर काम की गुणवत्ता पर नजर रखते हैं.

 कई जिलों के लोगों को होगा फायदा

 बताया गया है कि तारामंडल का निर्माण पूरा होने के बाद दरभंगा, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, जयनगर, समस्तीपुर, पूर्णिया सहरसा समेत कई अन्य जिलों के लोगों को इसका लाभ मिलेगा। इसको लेकर लोगों में खुशी है। लोग बताते हैं कि सरकार की यह पहल नायाब है।