लोकमनपुर में शुरू हुआ कोसी का भीषण कटाव, गांव की ओर बढ़ने लगा है कोसी, यहां कभी भी हो सकता है कहर

कोसी नदी में फिर से लगातार बारिश के कारण भीषण कटाव शुरू हो गया है। शुक्रवार से कोसी पार स्थित लोकमनपुर व सखसाहकुंड गांव के पास बालू टोला समेत अन्य जगहों पर भीषण कटाव शुरू हो गया है।

लोकमनपुर में शुरू हुआ कोसी का भीषण कटाव, गांव की ओर बढ़ने लगा है कोसी, यहां कभी भी हो सकता है कहर
कोसी नदी में फिर से लगातार बारिश के कारण भीषण कटाव शुरू हो गया है। शुक्रवार से कोसी पार स्थित लोकमनपुर व सखसाहकुंड गांव के पास बालू टोला समेत अन्य जगहों पर भीषण कटाव शुरू हो गया है। कटाव की गति ऐसी है कि मिनटों में नदी के किनारे की जमीन का एक बड़ा हिस्सा कट रहा है और नदी लगातार गांव की तरफ बढ़ रही है। जिससे गांव का अस्तित्व खतरे में है। दरअसल, नदी और गांव के बीच महज 50 मीटर रह गया था। तबाही के डर से लोग अभी से रतजगा करने लगे हैं और अपना सामान सुरक्षित करने में लगे हैं। वहीं ग्रामीणों ने इस दिशा में जल्द से जल्द संबंधित विभाग के अधिकारियों से आवश्यक पहल करने की मांग की है। हर साल कोसी नदी यहां तबाही मचाती है और तीन महीने तक पूरी पंचायत के लोग पूरी तरह से प्रभावित होते हैं, लेकिन अब तक इन समस्याओं का स्थायी समाधान नहीं हो पाया है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि कटाव की गति ऐसी ही रही तो जल्‍द ही लोकमनपुर बालू टोला में स्थित 150 से अधिक घरों में और साहकुंड के बालू टोला स्थित 50 घरों में पानी घुस जाएगा और पूरा गांव तबाह हो जाएगा।
 
नवगछिया में गंगा खतरे के निशान से चार मीटर नीचे
 
संसू, नवगछिया : नवगछिया में गंगा नदी खतरे के निशान से चार मीटर नीचे बह रही है। नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। जल संसाधन विभाग के कैंप कार्यालय के अनुसार शुक्रवार शाम इस्माइलपुर-एक्सबाद टोली में गंगा नदी 27.01 मीटर पर बह रही है, जबकि चेतावनी जल स्तर 30.60 मीटर है। वहीं, खतरे का जल स्तर 31.60 मीटर और उच्चतम जल स्तर 33.45 मीटर है। इस्माइलपुर से जाबाद टोली तक नौ ठेकेदारों द्वारा बाढ़ से बचाव का कार्य किया जा रहा है. स्पर नंबर चार पर रेत से भरे बोरे लगाए गए हैं।